हाई कोर्ट ने लगायी मधु कोड़ा की सजा पर रोक

दिल्ली उच्च न्यायालय ने सीबीआई की विशेष अदालत की ओर से कोड़ा पर लगाये गये 25 लाख के जुर्माने पर भी लगायी रोक

नयी दिल्ली। सीबीआई की विशेष अदालत के उस आदेश पर दिल्ली हाई कोर्ट ने रोक लगा दी है, जिसमें झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा को कोयला घोटाले मामले में 3 साल की सजा सुनायी गयी थी। कोड़ा पर लगाये गये जुर्माने पर भी कोर्ट ने रोक लगा दी है। मालूम हो कि कोयला घोटाले में झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा को दिल्ली स्थित सीबीआई की विशेष अदालत ने तीन साल जेल की सजा सुनाने के साथ 25 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था।

उल्लेखनीय है कि सीबीआई की विशेष अदालत ने मधु कोड़ा को अपराधिक साजिश रचने और भ्रष्टाचार का दोषी बताते हुआ सजा का ऐलान किया था। वैसे, सजा सुनाने के फौरन बाद अदालत ने मधु कोड़ा और उनके साथियों को सजा के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील करने के लिए दो महीने की अंतरिम जमानत भी दे दी थी। करीब चार हजार करोड़ के कोयला घोटाले में सीबीआई ने मधु कोड़ा सहित सात लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया था। तत्कालीन कोयला सचिव एचसी गुप्ता, राज्य के तत्कालीन मुख्य सचिव एके बसु आरोपी अधिकारियों में शामिल थे। इसके अलावा खान निदेशक बीबी सिंह, खान विभाग के तत्कालीन प्रशाखा पदाधिकारी सहायक बसंत भट्टाचार्य पर भी घोटाले का आरोप था।

इस मामले में सीबीआई ने दिल्ली स्थित विशेष न्यायाधीश भारत पराशर की अदालत में आरोप पत्र दायर किया था। आरोप पत्र में कहा गया था कि मधु कोड़ा सहित आरोपी अधिकारियों ने विन्नी आयरन एंड स्टील के लिए राजहरा कोल ब्लॉक आवंटित करने की अनुशंसा की थी। राजहरा कोल ब्लॉक में 17.09 मिलियन मैट्रिक टन कोयले के भंडार का अनुमान लगाया गया था।

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *