आधा दर्जन साइबर शातिरों पर ईडी का शिकंजा

साइबर ठगी से अफरात संपत्ति बनाने वालों पर प्रवर्त्तन निदेशालय की कार्रवाई/ अपराधियों के घरों में दाखिल हो निदेशालय की टीम ने की जांच/ ईडी के कार्रवाई से जामताड़ा के साईबर अपराधियों में हड़कंप/ गिरिडीह से 5 साइबर अपराधी गिरफ्तार/ अपराधियों के पास से 11 मोबाइल व 14 सिम कार्ड बरामद

जामताड़ा/ संवाददाता। जामताड़ा से ही देश भर में साइबर ठगी कर अफरात संपति बनाने वाले साइबर शातिरों पर ईडी (प्रवर्त्तन निदेशालय) की टीम ने शिकंजा मजबूत किया है। इसी मुतल्लिक ईडी रांची की 20 सदस्यीय टीम जिले के नारायणपुर थाना क्षेत्र के लटैया व मिर्गा गांव में दाखिल हुई। टीम ने नारायणपुर थाना कांड संख्या 207/2015 में आय से अधिक संपति की जांच के लिए आधा दर्जन कुख्यात साईबर अपराधियों के घरों की जांच की। साथ ही उनके बैंक पासबुक सहित अन्य भौतिक चीजों का आकलन किया। अधिकारियों ने उनके घर में रोजगार के साधनों की जानकारी भी ली। इसके अलावा 10 वर्ष पूर्व इनकी संपत्ति और वर्तमान संपत्ति की बारे में गांव के अन्य लोगों से भी लगभग 5 घंटे तक पूछताछ की। जानकारी के अनुसार टीम को साइबर शातिरों के पास अफरात संपति होने की जानकारी मिली है।

टीम के आते ही रफू चक्कर हुए सभी शातिर

ईडी की टीम के आने की सूचना पर सभी कुख्यात साईबर अपराधी फौरन घरों को छोड़कर रफू चक्कर हो गये। लिहाजा, ईडी की टीम ने उनकी अनुपस्थिति में ही हाल ही में बनाये गये उनके भव्य मकानों में लगी संपति का आकलन किया। टीम ने सबसे पहले मिर्गा गांव के साइबर अपराधी प्रदीप मंडल, पिंटू मंडल, बिशु मंडल और मुकेश मंडल के घरों पर दस्तक दिया। जहां उक्त साईबर अपराधियों के घरों में मौजूद सामानों और घरों के निर्माण में लगी संपति का आकलन किया गया। बाद में टीम सीधे लटैया गांव पहुंचकर गणपति मंडल व प्रकाश मंडल के घरों तक पहुंची। उनके घरों में उपस्थित परिजनों से आलीशान भवन निर्माण में राशि कहां से आई और किस रोजगार से पैसा अर्जित कर अन्य ऐशो आराम की चीजें खरीदी गयी, के बाबत पूछताछ की।

पुलिस ने की थी ईडी जांच की मांग

उल्लेखनीय है कि जिले में कुल 30 साईबर अपराधियों के विरूद्ध ईडी से जांच कराने की जिला पुलिस ने मांग की थी। ईडी को जांच की अनुशंसा के बाद जिले के दो मामले दो महीने पहले ईडी में दर्ज किया गया। ईडी के अधिकारियों ने जांच के बारे में कोई भी जानकारी मीडिया को देने से साफ इंकार किया है। वैसे साइबर ठगी मामले में ईडी की इस कार्रवाई से साईबर अपराधियों में हड़कंप है। उक्त साईबर अपराधियों के विरूद्ध फर्जी बैंक अधिकारी बनकर कई लोगों के खाते से अवैध राशि निकासी का आरोप है। इससे उक्त कुख्यात अपराधियों ने करोड़ों की संपति अर्जित की है। टीम के आने पर उसके साथ साईबर थाना प्रभारी सह इंस्पेक्टर सुनील कुमार चौधरी, नारायणपुर पुलिस निरीक्षक सुबोध कुमार यादव और अन्य पुलिस कर्मी साथ थे।

गिरिडीह से 5 साइबर अपराधी गिरफ्तार, 11 मोबाइल व 14 सिम कार्ड बरामद

गिरिडीह। गिरिडीह पुलिस ने 5 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 11 मोबाइल व 14 सिम कार्ड बरामद किया गया है। इधर पत्रकारों से बातचीत में एसडीपीओ संदीप सुमन समदर्शी ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर अहिल्यापुर थाना प्रभारी फैज अहमद के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई। टीम ने अहिल्यापुर थाना क्षेत्र के चामलिट्टी में तालाब के पास झाड़ी से साईबर अपराध में संलिप्त पांच अपराधियों को पकड़ा। गिरफ्तार अपराधियों में छोटी मंडल, बजरंगी कुमार मंडल, रमेश कुमार मंडल, कांता मंडल व अजय कुमार मंडल शामिल हैं। उन्होंने कहा कि बरामद किये गये सभी मोबाईल में साईबर अपराध कर ठगी किये जाने का साक्ष्य पाया गया व गिरफ्तार सभी अभियुक्तों ने भी साईबर अपराध में संलिप्त होने की बात स्वीकार की है। छापामारी दल में थाना प्रभारी फैज अहमद, सोनू कुमार चौधरी, सुनील टोप्नो, रघुनंदन सिंह, राम सिंह, लक्ष्मण प्रसाद, संजय सिंह व पंकज उरांव शामिल थे।

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *