एडीजी 2 के गार्ड को लगी गोली, रिम्स रेफर

दिन भर हुई जांच पर नहीं सुलझी जज के गार्ड को गोली लगने की गुत्थी/अपने ही पिस्टल से गोली लगने की लोग जता रहे आशंका

देवघर/संवाददाता/ एडीजी 2 मो नसीरूद्दीन के बॉडी गार्ड को बुधवार की दोपहर बांयी जांघ में गोली लग गयी। हादसे में वे गंभीर रूप से जख्मी हो गये हैं। लेकिन गोली कैसे लगी यह सवाल पुलिस के लिए पूरे दिन की जांच के बाद भी पहेली बनी हुई है। घटना कोर्ट परिसर में मुख्य द्वार के निकट हुई। यहां गोली चलने की आवाज सबने सुनी, मगर गोली कहां से, कैसे और किसके पिस्टल से बॉडी गार्ड को लगी इसका खुलासा नहीं हो सका। घायल बॉडीगार्ड को खून से लथपथ हालत में इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती किया गया। मगर, गोली निकाली नहीं जा सकी। लिहाजा, उसे रिम्स रेफर कर दिया गया। कोर्ट परिसर में गोली चलने की आवाज ने सबको सकते में डाल दिया। घटना के बाद डयूटी पर तैनात सभी सुरक्षाकर्मी दौड़कर मुख्य गेट की तरफ गये तो तो देखा कि बॉडीगार्ड जुलकार अंसारी को गोली लगी है। डॅाक्टर रंजन सिन्हा ने बताया कि जुलकार की बांयी जांघ की हड्डी में फ्रैक्चर हो गया है। गोली बाहर से नीचे की तरफ से लगी है और ऊपर फीमर में छेद कर उसमें घुस गई है।

क्या कहते हैं एसडीपीओ

घायल को देखने पहुंचे एसडीपीओ विकास चंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि मामला पूरी तरह से साफ नहीं हो पाया है। गोली कहां से और कैसे चली इसपर कुछ भी अभी नहीं बताया जा सकता। गोली 9 एमएम पिस्टल से लगी है। पुलिस इस बारे में जांच पड़ताल कर रही है।

मामले की पड़ताल में पुलिस टीम ने की पूछताछ

शाम करीब पांच बजे एसडीपीओ विकास चंद्र श्रीवास्तव, नगर थाना प्रभारी विनोद कुमार सहित कई पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंचे और ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों और अन्य कर्मचारियों से पूछताछ की। पुलिस अभी भी घटना के बारे में कुछ भी बताने से कतरा रही है।

शहर में तरह-तरह की चर्चा

घटना को लेकर वैसे तो शहर में तरह-तरह की चर्चा है। लेकिन, चर्चे में यह बात कॉमन है कि एडीजे 2 के कोर्ट में बैठने के बाद बॉडीगार्ड जुलकार मुख्य द्वार के निकट अन्य गार्डों के साथ हंसी ठिठोली कर रहा था। उसी दौरान जुलकार की पिस्टल की गोली उसकी ही बांधी जांघ में जा धंसी। जानकारी के अनुसार घायल बॉडीगार्ड जुलकार अंसारी दुमका जिले का निवासी है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *