4 हाइवा गंगा में समाया, ड्राइवर व खलासी लापता

सकरीगली समदा घाट के किनारे फ्लोटिंग बोट पलटने से मची अफरा तफरी/मनिहारी जाने से पहले हुआ हादसा, बाल बाल बचे कई लोग/राहत व बचाव कार्य में जुटा प्रशासन

साहिबगंज/संवाददाता। मुफस्सिल थाना क्षेत्र अंतर्गत सकरीगली, समदा घाट पर रविवार की सुबह ट्रक लोडिंग के क्रम में फ्लोटिंग बोट पलट गई। जिससे बोट पर लदा 4 हाइवा गंगा में समा गया। जबकि 4 हाइवा बोट पर ही पलट गया। इससे घाट पर अफरा तफरी मच गई। हाइवा पर सवार कई ड्राइवर व खलासी ने किसी तरह अपनी जान बचाई। हालांकि दो लोगों के डूबने की आशंका जताई जा रही है। सूचना मिलते ही सदर एसडीओ अमित प्रकाश, सीओ राम नरेश सोनी, मुफस्सिल थाना प्रभारी राम हरीश निराला ने घटना स्थल पर पहुंच मामले की जानकारी ली है। फिलहाल प्रशासन के प्रयास से गोताखोर गंगा घाट पर पहुंच चुके हैं। खबर लिखे जाने तक लापता लोगों की तलाश जारी थी। इधर लापता बताए जा रहे एक ड्राइवर व एक खलासी के परिजन भी घाट पहुंच चुके हैं। हाइवा का नंबर जेएच 17जी 4050 बताया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार फ्लोटिंग बोट पर वाहन संख्या जेएच 17 एच 1241, जेएच 17 एच 4489, जेएच 17 एच 3210, जेएच 17 एच 2148, जेएच 17 एच 6023 सहित जेएच 17 जी 4050 सहित 2 अन्य पत्थर लदा वाहन सवार था। हालांकि अन्य वाहनों के डूब जाने से उनका नंबर नहीं पता चल पाया है।

फ्लोटिंग बोट पर रात में सवार हुए थे सभी वाहन

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सभी वाहन रात में ही फ्लोटिंग बोट पर सवार हो चुके थे। सुबह फ्लोटिंग बोट एलसीटी के साथ मनिहारी (बिहार) जाने की तैयारी में था। तभी फ्लोटिंग बोट असंतुलित हो कर घाट से टकरा गया। जिससे एलसीटी से बंधी एक तरफ की रस्सी टूट गयी। रस्सी टूटते ही फ्लोटिंग बोट एक तरफ पलट गया। बोट पर किनारे की तरफ सवार पत्थर लदे 4 वाहन गंगा में डूब गये। वहीं अन्य चार वाहन बोट पर ही पलट गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार घाट पर मौजूद घाट प्रबंधन के कर्मियों ने बोट को संभालने की भरपूर कोशिश की। लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिली।

वाहनों के 5 ड्राइवर किसी तरह निकले बाहर

दुर्घटना के बाद वाहन चालक अनिल कुमार, अरविंद कुमार, हीरालाल यादव, ब्रह्मदेव यादव और नीरज यादव किसी तरह तैर कर बाहर निकले। सकुशल बाहर आने वाले चालकों ने बताया कि वाहन संख्या जेएच 17 जी 4050 का चालक दिल मोहन सिंह व खलासी विकास यादव लापता हैं। मुफस्सिल थाना प्रभारी राम हरीश निराला ने बताया कि लापता लोगों को ढूंढने के लिए गोताखोरों को लगाया गया है। वहीं वाहनों को बाहर निकालने के लिए क्रेन बुलाया गया है। घटना स्थल पर राहत बचाव कार्य के बाद ही पूरी जानकारी मिल सकेगी।

लापता के परिजन पहुंचे घाट

दुर्घटना में लापता हुए चालक व खलासी के परिजन रविवार की दोपहर घाट पहुंचे। चालक दिल मोहन सिंह व खलासी विकास यादव टेंगेर, पथरगामा, गोड्डा के निवासी हैं। परिजन शिवचरण यादव ने बताया कि दुर्घटना में नाती विकास के लापता होने की सूचना मिली है। गांव से 30 लोग यहां पहुंचे हैं। उन्होंने प्रबंधन व प्रशासन से जल्द से जल्द से लापता लोगों को ढूंढने की मांग की है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *