मां ने चुनाव हराया तो बेटी ने शादी कर अपनाया

जिस कांग्रेसी महिला नेता से लोस चुनाव हारे थे, नरेंद्र सिंह ने उन्हें ही बनाया सास

वर्ष 2009 के लोकसभा चुनावी समर में कांग्रेस उम्मीदवार नंदनी सिंह ने जिस भाजपा प्राथी नरेंद्र सिंह को हराया था, उसी नरेंद्र को शादी कर नंदनी सिंह की बेटी हिमाद्री ने अपना लिया है। हिमाद्री का परिवार शुरूआत से कांग्रेस में रहा है। उनके माता पिता दोनों (अब स्वर्गीय) कांग्रेस की राजनीति में थे। उनके जाने के बाद हिमाद्री सिंह कांग्रेस में एक्टिव हैं। पिछला लोकसभा चुनाव हिमाद्री ने कांग्रेस के टिकट पर शहडोल सीट से लड़ा, हालांकि हार गयी थीं। अब मध्य प्रदेश में कांग्रेस नेत्री और भाजपा नेता की शादी चर्चे में है।

मध्यप्र्रदेश के अनूपपुर जिले में हिमाद्री और नरेंद्र दोनों ही अपनी-अपनी पार्टी की राजनीति में सक्रिय हैं। शहडोल लोकसभा सीट पर पिछला उपचुनाव कांग्रेस के टिकट पर लड़ने वाली हिमाद्री सिंह अब भाजपा नेता और राज्य अनुसूचित जन जाति आयोग के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह मरावी संग विवाह बंधन में बंध गयी हैं। नरेंद्र सिंह मरावी भाजपा नेता हैं तो हिमाद्री कांग्रेस का युवा चेहरा हैं। दोनों की सगाई इसी साल 8 जून को हुई थी। अब दोनों ने अनूपपुर जिले के राजेंद्रग्राम में सात फेरे लिये।

दोनों की शादी में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान भी पहुंचे और उन्हें आशीर्वाद दिया। मालूम हो कि हिमाद्री का परिवार कांग्रेसी रहा है और लगातार चुनाव में भी उतरता रहा है। जबकि नरेंद्र सिंह मरावी वर्ष 2009 में हिमाद्री की मां के खिलाफ 13415 मतों से चुनाव हार चुके हैं। हिमाद्री भी पिछले साल भाजपा उम्मीदवार ज्ञान सिंह के खिलाफ उपचुनाव में उतरी थीं, लेकिन करीबी मुकाबले में हार गयीं थीं। नरेंद्र और हिमाद्री का कहना है कि वे अब रिश्ते में बंध गये हैं। लेकिन, राजनीतिक स्तर पर दोनों की अपनी-अपनी विचारधारा है। दोनों अपनी-अपनी पार्टियों के साथ जुड़े रहेंगे।

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *