सुशील मोदी के बेटे की शादी में बाअदब पहुंचे लालू

वर-वधु को आशीर्वाद देकर लालू ने साबित किया कि निजी नहीं होती है सियासी दुश्मनी

पटना। बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के बेटे उत्कर्ष की शादी में एक साथ कई सियासी सूरमा जुटे। फोन पर शादी का निमंत्रण देने से नाराज तेज प्रताप यादव के बिगड़े बोल ने भले ही इस शादी को चर्चे में ला दिया था, मगर बड़े अपनेपन से इस शादी में पहुंचकर उनके पिता लालू यादव ने सारी आशंकाओं को दूर कर दिया। वर-वधु को आशीर्वाद देकर लालू ने साबित कर दिया कि सियासी दुश्मनी कभी भी निजी नहीं होती। इस शादी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र, भाजपा नेता शाहनवाज समेत कई सियासी दिग्गज भी पहुंचे।

इस शादी में बिहार की अलग-अलग पार्टी के तीन बड़े राजनेता एक मंच पर दिखे। रविवार की देर रात मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के बेटे शादी में पहुंचे और इसी बीच इन दोनों नेताओं के राजनीतिक दुश्मन लालू यादव ने मेहमान बनकर शादी समारोह में शिरकत की तो एक पल के लिए सभी की निगाहें बिहार के इन सियासी सुरमाओं पर टिकी रह गयी। पटना के वेटनरी कॉलेज ग्राउंड में सुशील मोदी के बेटे उत्कर्ष तथागत के शादी समारोह में कई बड़ी राजनीतिक हस्तियां भी पहुंची।

शादी समारोह में पहुंचे लालू यादव ने नवविवाहित जोड़े को आर्शीवाद दिया और सुशील मोदी से भी मुलाकात की। वैसे, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राजद प्रमुख लालू यादव आपस में बातचीत करते नहीं दिखे। इन दोनों की कुर्सियां भी दूर लगाई गई थीं। महागठबंधन के बाद यह पहला मौका था, जब लालू और नीतिश दोनों किसी एक ही समारोह में नजर आये। मालूम हो कि सुशील मोदी के बेटे उत्कर्ष ने कोलकाता की यामिनी से शादी की है, जो पेशे से सीए हैं। शादी समारोह बहुत ही साधारण था, जिसे तामझाम से दूर रखा गया था। शादी बिना दहेज, बैंड, बाजा, बारात, नाच-गाने और भोज के बिना संपन्न करायी गयी।

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *