आरक्षण के बाद और कैसे छक्के लगायेगी मोदी सरकार

विपक्ष के जवाब में और कई छक्के लगाने का खुलासा कर गये केंद्रीय कानून मंत्री/ रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मैच के आखिरी ओवरों में ही पड़ते हैं सबसे अधिक छक्के

नई दिल्ली। सवर्णों को नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में आर्थिक आधार पर 10 प्रतिशत आरक्षण देने के लिए राज्यसभा में बुधवार को विधेयक पर चर्चा के दौरान केंद्रीय कानून मंत्री मोदी सरकार की रणनीति का खुलासा कर गये। उन्होंने विपक्ष के विरोध के जवाब में कहा कि क्रिकेट में स्लॉग ओवर में ही सबसे अधिक छक्के लगते हैं। एक ही छक्के में विपक्ष परेशान है। जबकि और भी कई छक्के लगने बाकी हैं। हालांकि और कौन-कौन से छक्के मोदी सरकार इस मैच के आखिरी आवरों में लगायेगी, इस पर अभी कुछ नहीं कहा।

मालूम हो कि केंद्र सरकार जहां सवर्ण गरीबों को आरक्षण को ऐतिहासिक कदम बता रही है तो वहीं विपक्ष इसे एक चुनावी स्टंट बता रही है। राज्यसभा में केंद्रीय कानून मंत्री ने विपक्ष के आरोपों पर पटलवार करते हुए कहा कि आने वाले दिनों में सरकार कई और कदम उठाने वाली है। विपक्षी नेताओं के सवालों के जवाब देते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि उपसभापति जी क्रिकेट में छक्का स्लॉग ओवर में ही लगता है। अगर विपक्ष को परेशानी है तो यह पहला छक्का नहीं है। और भी छक्के लगेंगे। उन्होंने कहा कि वे ऐसे बड़े फैसले विकास और बदलाव के लिए लेकर आएंगे।

श्री प्रसाद ने कहा कि अगड़े वर्ग के लोग रिक्शा चलाते हुए मिलेंगे। ये सच्चाई है कि अगड़े वर्ग (राजपूत और ब्राह्मण) भी मजदूर है। गांव में अगड़े वर्ग के लोग रिक्शा चलाते हुए मिलेंगे। समर्थन करना है तो खुल कर कीजिए। लोकसभा और राज्यसभा में इतिहास बन रहा है। यह एक बदलाव का दिन है। उन्होंने कहा कि यह विधेयक राज्य सरकार की नौकरियों पर भी लागू होता है। वैसे राज्य सरकार तय कर सकती है। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आरक्षण के लिए 50 फीसदी की सीमा संविधान में नहीं है। संविधान में संशोधन की बात हम कर रहे हैं। विपक्षी दलों की असहमति और सवालों का जवाब देते हुए कहा कि 50 फीसदी की सीमा सुप्रीम कोर्ट के फैसले में हैं। इस बिल से हम संविधान की दो अनुच्छेदों में बदलाव की बात कर रहे हैं। बाकी वर्गों के आरक्षण में कोई फेरबदल नहीं होगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *