कांग्रेस वायुसेना को मजबूत नहीं होने देना चाहती : पीएम

कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकारों ने 30 साल तक देश की सेना को निहत्था बनाकर रखा/कांग्रेस और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन के ‘सत्ताभोग’ कालखंड में बिना दलाली के कोई भी रक्षा सौदा नहीं हुआ

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में गुरुवार को कांग्रेस पर सीधा आरोप लगाया कि मुख्य विपक्षी दल देश की वायुसेना को मजबूत नहीं होने देना चाहती। राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा का जवाब देते हुए मोदी ने कहा, ‘पिछले 30 साल में अत्याधुनिक श्रेणी का एक भी लड़ाकू विमान नहीं खरीदा गया। मैं कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगाता हूं कि वह (कांग्रेस) नहीं चाहती कि देश की वायुसेना मजबूत हो।’ उन्होंने राफेल सौदे में गड़बड़ी के आरोपों पर पहली बार अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सवालिया लहजे में पूछा कि कांग्रेस आखिर किस कंपनी को फायदा पहुंचाना चाहती है। उन्होंने कहा, ‘मैं आपकी बेचैनी समझ सकता हूं।’

उन्होंने कहा कि इतिहास गवाह है कि कांग्रेस और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन के पिछले करीब 55 साल के ‘सत्ताभोग’ कालखंड में बिना दलाली के कोई भी रक्षा सौदा नहीं हुआ। ‘चाचा’ और ‘मामा’ की गिरफ्तारी से सभी राज धीरे-धीरे खुल रहे हैं। कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकारों ने 30 साल तक देश की सेना को निहत्था बनाकर रखा।
मोदी ने पूर्ववर्ती संप्रग सरकार के कार्यकाल में बुलेट प्रूफ जैकेट और जूते जैसी जरूरी सुविधाओं से लैस किये जाने की सैनिकों की जरूरतों को नजरअंदाज किये जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस ने देश की सुरक्षा की अनदेखी की है और देश के साथ विश्वासघात किया है।

आंकड़ों के हवाले से उन्होंने कहा कि 2009 में सेना ने एक लाख 86 हजार बुलेट प्रूफ जैकेटों की मांग की थी, लेकिन तत्कालीन मनमोहन सरकार ने अपने कार्यकाल के अंत तक भी उसे नहीं पूरा किया। उन्होंने कहा कि जब राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार सत्ता में आयी तब 2016 में पहले 50 हजार बुलेट प्रूफ जैकेट खरीदे गये और 2018 तक मांग के अनुरूप एक लाख 86 हजार जैकेट सेना को उपलब्ध करा दिये गये।

उन्होंने सैन्य साजोसामान की खरीद की अनदेखी किये जाने का भी कांग्रेस पर आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकारों ने सेना को मजबूत करने के लिए ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकारों में अत्याधुनिक हथियारों की बात तो दूर, सेना के जवान बुलेट प्रूफ जैकेट, कम्युनिकेशन डिवाइस, हेलमेट और अच्छे जूतों के लिए तरस गये थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *