गुगल मैप की हसीन गलती: थक के ‘मस्त’ मुसाफिर

अनजानी जगहों पर निकले मुसाफिरों के लिए गूगल मैप भरोसेमंद माना जाता है, लेकिन पहली बार ऐसा भी हुआ कि भरोसेमंद गुगल मैन ने एक हसीन किस्म का फरेब कर दिया। दरअसल, गुगल मैप की इस प्यारी से गलती के कारण मुसाफिर के 15 मिनट का सफर 2 घंटे का हो गया। लेकिन, गुगल मैप के बताये रास्ते पर मुसाफिर उन मनभावन जगह पर पहुंच गये, जहां नहीं पहुंचते तो कुछ चूक जाते।

गुगल मैप को आज के समय में रास्तों का पता लगाने और ट्रैफिक की रियल टाइम जानकारी हासिल करने में सबसे उपयोगी एप माना जाता है। कहीं भी जाना हो बस गूगल मैप ऑन करिए और निकल पड़एि। दो जगहों के बीच की दूरी कितनी है, इसकी जानकारी भी गूगल मैप पल भर में दे देता है। साथ ही साथ आपको इस बात का भी पता लग जाता है कि किस रास्ते पर ट्रैफिक बहुत है तो आप समय बचाने के लिए कौन सा रास्ता ले सकते हैं। लेकिन पिछले दिनों गूगल मैप ने एक गलती कर दी। इसकी वजह से जो रास्ता 15 मिनट में कवर हो सकता था उसे कवर करने में करीब दो घंटे का समय लग गया। हालांकि गूगल मैप की इस गलती की वजह से ऑस्ट्रेलिया के एक व्यक्ति का सफर यादगार बन गया। यह सबकुछ बीता ऑस्ट्रेलिया के रहने वाले ब्रूस के साथ।

गुगल मैप ने ब्रूस को गलत रास्ते का रूट बता दिया था। उनको जहां जाना था, वह लोकेशन महज 15 मिनट ही दूर थी। मगर, गूगल की गलती ब्रूस के लिए अनजाने में हुआ चमत्कार ही साबित हुई। गूगल की इस गलती से ऑस्ट्रेलिया की सबसे खूबसूरत लोकेशंस से गुजरने का उन्हें मौका मिला। ब्रूस ने बोर्डपांडा नामक वेबसाइट से बातचीत में कहा कि जब उन्होंने गूगल मैप ऑन किया तो उन्हें पता लगा कि अगर वे गूगल के बताए हुए रास्ते पर चलेंगे तो 15 मिनट बचेंगे। उन्हें लगा कि गूगल मैप को फाॅलो करना चाहिए।

गूगल मैप के साथ ब्रूस अपनी फोर्ड रेंजर गाड़ी लेकर अपने दोस्तों के पास जाने के लिए निकल पड़े। दरअसल, उस रात को उनका कैम्पिंग का प्लान था। ब्रूस के अनुसार उन्हें सफर करने में जरा भी घबराहट नहीं होती है। वे अपने संग 20 लीटर पानी और डीजल का टैंक फुल करके चलते हैं। ब्रूस बताते हैं कि वे अपने इस सफर पर खो गए थे, लेकिन ब्रूस ने अपनी इस यात्रा का पूरा लुत्फ उठाया।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *