दाह संस्कार को निकले मां के शव के साथ जलेंगी पुत्र समेत 5 लाशें

हादसों का गुरुवार: 6 मौतें/ शव लेकर सुल्तानगंज जा रही सवारी गाड़ी को ट्रक ने रौंदा/ सारठ-सारवां पथ पर ट्रक की चपेट में आने से 5 की मौत, 12 घायल/देवघर के डकाय जंगल मोड़ और पालोजोरी में हुए सड़क हादसे में गयी कुल 6 जानें/ सूजी लदे ट्रक को आग के हवाले करने और सूजी लूटने का हुआ प्रयास / पुलिस की मुस्तैदी से जलाये जाने से रोक लिया गया ट्रक

देवघर। देवघर में गुरुवार हादसों का दिन साबित हुआ। इस दिन तीन अलग-अलग हादसों में सात लोगों की जानें गयीं। सबसे बड़ा हादसा सारठ सारवां मुख्य पथ के पास डकाय जंगल मोड़ पर हुआ। यहां एक शव लेकर जा रही महिंद्रा सवारी गाड़ी को आमने-सामने से एक ट्रक ने रौंद दिया। घटना में पांच लोगों की मौत हो गयी। जबकि 12 लोग घायल हो गये। घटना का सबसे दुखद पहलु ये है कि जिस मां का शव दाह संस्कार के लिए सुल्तानगंज के लिए निकला था, उसे मां के शव के साथ हादसे में मारे गये उसके पुत्र गांविंद मंडल उर्फ भुटका मंडल समेत 5 अन्य लाशें भी जलेंगी। उधर पालोजोरी में हुए एक सड़क हादसे में 40 वर्षीय एक चौकीदार श्यामलाल राणा की भी मौत हो गयी।

डकाय जंगल मोड़ पर 12 बजे हुई दुर्घटना

लगभग 12 बजे सारठ-सारवां पथ पर डकाय जंगल मोड़ पर तेज गति से आ रही सवारी गाड़ी व दस चक्का ट्रक के आमने-सामने टक्कर से सवारी गाड़ी पर सवार चार की मौत घटनास्थल पर ही हो गयी। वहीं एक की मौत देवघर के मेधा सेवा सदन में इलाज के दौरान हुई। घटना की जानकारी पर सबसे पहले विधायक बादल पत्रलेख अपने समर्थकों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और पूरी तरह पिचक गयी गाड़ी के अंदर से शवों और घायलों को सहयोगियों के साथ निकाल बाहर किया। बाद में एम्बुलेंस से घायलों को सीएचसी सारवां के साथ देवघर के सदर अस्पताल और कुंडा स्थित मेधा सेवा सदन में भर्ती कराया।

हादसे के मृतकों और घायलों के नाम

इस सड़क हादसे में पालोजोरी थाना क्षेत्र के रांगाटांड़ गांव निवासी सरोज मंडल (45), अनिल मंडल (33), सारठ के हेडडीह निवासी सवारी गाड़ी के चालक राम सिंह (47) और लक्ष्मणडीह के सीताराम मंडल (45) की मौत मौके पर हो गयी। जबकि पालोजोरी थाना क्षेत्र अंतर्गत रांगाटांड़ गांव निवासी गोविंद मंडल उर्फ भुटका मंडल (35) की मौत देवघर में इलाज के क्रम में हो गयी। हादसे में मृत गोविंद मंडल उर्फ भुटका मंडल मृतका का पुत्र है। इसी तरह हादसे में 34 वर्षीय आनंद मंडल रांगाटांड़, 30 वर्षीय मधु मंडल सरसोबाद, 30 वर्षीय हृदय मंडल बीरमांटी, 40 र्व्शीय मंगुु मंडल रांगाटांड़, साधु मंडल रांगाटांड़, तुलसी मंडल कोडाडीह सारवां, एक 65 वर्षीय वृद्ध के अलावा अन्य पांच गंभीर रूप से घायल हैं। कुल 17 लोग दाह संस्कार के लिए गाड़ी पर सवार होकर जा रहे थे। पूर्व सांसद फुरकान अंसारी और जिला परिषद उपाघ्यक्ष ने अस्पताल आकर मरीजों का कुशलक्षेम जाना।

कैसे हुई जानलेवा दुर्घटना

ग्रामीणों ने बताया कि पालोजोरी थाना क्षेत्र के रांगाटांड़ गांव निवासी मंगरू मंडल की पत्नी का देहांत रात हो गया था। जिसके दाह संस्कार को लेकर महिंद्रा सवारी गाड़ी जेएच 15 टी 3375 पर 17 लोग सवार होकर दाह संस्कार के लिए सुल्तानगंज जा रहे थे। वहीं देवघर की ओर से आ रहे ट्रक संख्या डब्ल्यूबी 33 सी 0333 से आमने सामने डकाय जंगल में तीखे मोड़ के पास टकरा गयी। जिससे सवारी गाड़ी के परखच्चे उड़ गये और सड़क पर खून बिखर गया। हादसे के बाद जुटी भीड़ से घंटों मुख्य सड़क में आवागमन बाधित हो गया। बताते हैं कि सवारी गाड़ी के आगे एक अन्य ट्रक जा रहा था, जिसे ओवरटेक करने के दौरान विपरीत दिशा से आ रहे ट्रक से सवारी गाड़ी टकरा गयी। खबर लिखे जाने तक सड़क जाम रहा और शव सड़क पर विखरा रहा। विधायक व सारवां पुलिस प्रशासन ने जाम कर रहे लोगों को मनाया तब चार बजे जाम हटा और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। विधायक बादल पत्रलेख ने कहा कि घटना की जानकारी मंत्री के साथ देवघर डीसी व अन्य को दी गई है। पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने को लेकर प्रयास किया जाएगा। मौके पर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष शशांक शेखर भेाक्ता, पूर्व विधायक उदय कुमार सिंह उर्फ चुन्ना सिंह, पूर्व जिप सदस्य सुरेंद्र रवानी, बीडीओ विजय कुमार, चिरंजीव यादव, मुबारक अंसारी, अंचल पुलिस निरीक्षक प्रदीप सिंह मौजूद थे। घटना के बाद सूजी लदे ट्रक को भीड़ ने आग के हवाले करने का प्रयास किया। लेकिन, पुलिस मुस्तैदी से ट्रक को बचा लिया गया। हालांकि भीड़ में शामिल कुछ लोगों ने ट्रक पर लदी सूजी की बोरियां लूट लीं।

मंत्री रणधीर सिंह वेतन मद से देंगे एक-एक लाख

हादसे के बाद कृषि मंत्री और रणधीर सिंह ने सभी मृतकों के परिजनों को अपने वेतन मद से एक-एक लाख रुपये देने की घोषणा की। मंत्री श्री सिंह ने हादसे पर दुखद बताया। साथ ही 5 लोगों की हुई मौत पर शोक व्यक्त किया। इधर हादसे पर उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा ने गहरी संवेदन व्यक्त की। उन्होंने लोगों से सड़कोें पर वाहन चलाते समय रेस ड्राईिवंग और ड्रंक एंड ड्राईव न करने की अपील की। कहा कि दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट और व चारपहिया वाहन चलाते समय सीट बेल्ट को प्रयोग करना चाहिए। 18 वर्ष से कम उम्र के किशोरों को वाहन चलाने न देने की भी अपील की।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *