नीतीश कुमार से हैं निजी रिश्ते: तेज प्रताप यादव

तेज ने माना कि बेहतर संबंधों के कारण बिहार सीएम नीतीश ने दिलाया है बंगला/बिहार में चर्चा आम है कि तेज की सक्रियता के पीछे मामा साधु यादव हैं

पटना। हाल के दिनों में कई भिन्न बातों को लेकर चर्चे में रहे पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव ने नीतीश कुमार के साथ अपने संबंधों को लेकर पहली बार खुलासा किया है। तेज प्रताप ने कहा है कि सीएम नीतीश कुमार के साथ उनका निजी संबंध है। इन्हीं संबंधों पर मुख्यमंत्री श्री कुमार ने उन्हें बंगला दिलाया है। हालांकि इससे पहले तेज प्रताप यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश पर राजद के विधायकों से खूब बातें करने और उन्हें (तेज प्रताप) को परेशान करने का आरोप लगाया था। उनका आरोप था कि जानबूझकर बिहार सरकार उन्हें बंगला आवंटित करने में देरी कर रही है।

क्या था बंगले का मामला?

नीतीश पर आरोप के कुछ दिनों बाद ही तेज प्रताप को बंगला आवंटित कर दिया गया और अब वह खरमास के बाद सरकारी बंगले में शिफ्ट करेंगे। पत्नी ऐश्वर्या को तलाक देने के बाद से तेज प्रताप यादव मां राबड़ी देवी के साथ नहीं रह रहे हैं और वे घर भी नहीं गए हैं।

बंगला मिलते ही बदली जुबान

नीतीश के प्रति तेज प्रताप की जुबान बंगला मिलते ही बदल गयी है। तेज प्रताप यादव ने अब कहा कि सीएम नीतीश कुमार ने उन्हें बंगला दिलाने में मदद की है। मुख्यमंत्री नीतीश से निजी रिश्तों पर उन्होंने कहा कि यह संबंध ठीक वैसा है, जैसा सभी नेताओं का होता है। उन्हें विधायक व पूर्व मंत्री होने के नाते सरकारी बंगला चाहिए था, जो अब मिला है। तेज प्रताप को पटना के 2ट स्ट्रैंड रोड पर बंगला अलॉट किया गया है। तेज प्रताप ने मामा साधु यादव के बारे में सवालों का भी जवाब दिया। दरअसल, ऐश्वर्या राय से तलाक के लिए अर्जी देने के कुछ दिनों बाद तक सक्रिय राजनीति से दूर रहे तेज प्रताप अब सियासी गतिविधियों में लगातार हिस्सा ले रहे हैं।

मामा के कारण अचानक से तेज हुए सियासत में तेज!

राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि तेज के बिहार की सियासत में अचानक से तेज हो जाने के पीछे साधु यादव हैं। वे लगातार जनता दरबार लगा रहे हैं। एक जनता दरबार में शिकायत पर जब तेज प्रताप फुलवारी थाने का घेराव करने पहुंचे मामा साधु यादव भी धरनास्थल पर नजर आए। वैसे, तेज प्रताप ने कहा कि उनकी सक्रियता के पीछे कोई और नहीं बल्कि वे खुद हैं। जनता दरबार में राजद के बड़े नेताओं की गैर मौजूदगी पर तेज ने कहा कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे बीमार हैं और दिल्ली में इलाज करा रहे हैं, जबकि अन्य नेता चुनावी व्यस्तता से नहीं आ पा रहे हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *