बोकारो जिला प्रशासन ने चार साल की उपलब्धियों का किया बखान

प्रियम सिंह/बोकारो । बोकारो के उपायुक्त  मृत्युंजय कुमार बरणवाल एवं पुलिस अधीक्षक कार्तिक एस द्वारा  वर्तमान सरकार के 4 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष पर जिले की विगत् 4 वर्षों की उपलब्धियों से संबंधित प्रेसवार्ता का आयोजन बोकारो समाहरणालय के सभाकक्ष में आयोजित की गई। प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए उपायुक्त बरणवाल ने कहा कि “बोकारो जिले में हर क्षेत्र में विगत् 4 वर्षों में विकास के कार्य हुए है। ” उपायुक्त ने बताया कि “विगत् 4 वर्षों में ‘प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण’ के तहत् 25,660 आवास स्वीकृत किये गए, जिसमें 18,850 आवास पूर्ण कर लिए गए हैं। वहीं मनरेगा के तहत् कुआं, डोभा, और शेड की कुल योजनाएँ 59,817 ली गयीं, जिसमें 37,150 योजनाएं पूर्ण कर ली गई हैं।”

उन्होंने आगे कहा कि “पेयजल एवं सवच्छता प्रमण्डल, चास के द्वारा 22 मिनी योजनाओं की मरम्मती तथा नया ड्रिल नलकूप निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है। उनके अनुसार चापाकल मरम्मती में बोकारो जिला में राष्ट्रीय औसत से ऊपर रहा है। अमलाबाद ग्रामीण जलापूर्ति योजना पूर्ण कर दी गयी है, जिससे आस-पास के ग्रामीण लाभन्वित हो रहे हैं।”
श्री बरणवाल ने कहा कि “डीएमएफटी योजना के तहत् ग्रामीण पेयजलापूर्ति हेतु पीएचईडी चास के द्वारा 135 करोड़ 67 लाख रूपये की 10 योजनाओं पर कार्य चल रहा है। वहीं पीएचईडी तेनुघाट, के द्वारा 169 करोड़ 2 लाख रूपये की 16 योजनाओं पर कार्य चल रहा है।”

उन्होंने समाज कल्याण विभाग पर चर्चा करते हुए कहा कि “विगत् 4 वर्षों में पूरक पोषाहार के कुल 6,96,632, स्वामी विवेकानन्द निःसक्त पेंशन योजना के 37,685, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के 1,740 एवं मुख्यमंत्री लक्ष्मी लाडली योजना के 9,936 लाभुक हैं।” उन्होंने बताया कि “बोकारो जिला राज्य का ऐसा पहला जिला है, जहाँ चाईल्ड लाईन 1098 की शुरूआत की गई। ”
उपायुक्त बरणवाल ने बताया कि “कुपोषण उपचार केन्द्र में भी स्वास्थ्य विभाग एवं समाज कल्याण विभाग के साथ सामंजस्य स्थापित करते हुए अति कुपोषित बच्चों का ईलाज किया जा रहा है। जिला में 4 एमटीसी केन्द्र चास, फुसरो, गोमिया एवं पेटरवार में संचालित है।”

उन्होंने जिला मत्स्य विभाग की उपलब्धि बताते हुए कहा कि “विगत् 4 वर्षों में 229 मछुआरा आवास का निर्माण कराया गया है। मत्स्य पालन प्रशिक्षण जिला में लगातार किया जा रहा है।” उन्होंने कल्याण विभाग के बारे में बताया कि “विगत् 4 वर्षों में छात्रवृति हेतु प्री-मैट्रिक विद्यार्थियों की संख्या 339136 एवं पोस्ट मैट्रिक विद्यार्थियों की संख्या 19587 है। साथ ही 40371 विद्यार्थियों को साईकिल का लाभ मिला है।” उपायुक्त ने कहा कि “स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण)  के तहत् 27 सितम्बर, 2018 को सम्पूर्ण बोकारो जिला को ओ0डी0एफ0 घोषित किया गया है। बोकारो जिला में स्वच्छ भारत मिशन के तहत् कुल 1,47,067 शौचालय का निर्माण किया गया है। रानी मिस्त्री के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में गुणवत्तापूर्ण शौचालय निर्माण के लिए पेयजल स्वच्छता मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा जिला बोकारो को स्काॅच आॅवार्ड 2018 से सम्मानित किया गया है।”

उन्होंने विद्युत आपूर्ति पर चर्चा करते हुए कहा कि “बोकारो जिलान्तर्गत 100 प्रतिशत घरों में विद्युति कनेक्शन कर दिया गया है। माननीय मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास के द्वारा 10 अक्टूबर, 2018 को बोकारो जिला को झारखण्ड का दूसरा पूर्ण विद्युतिकृत जिला घोषित किया गया। साथ ही 45,000 लाभुकों को विद्युत कनेक्शन दिया गया है।” श्री बरणवाल ने शिक्षा विभाग पर बताया कि “अक्टूबर 2018 से विद्यालयों के छात्रों के ज्ञान स्तर के आधार पर शिक्षा देने हेतु ज्ञान सेतु कार्यक्रम शिक्षा विभाग के द्वारा चलाया जा रहा है। ई-विद्या वाहिनी के अंतर्गत विद्यालयों में शिक्षकों की उपस्थिति एवं मध्याह्न भोजन योजना के तहत् बच्चों की संख्या की निगरानी की जाती है। विद्यालयों को बच्चों की संख्या एवं मध्याह्न भोजन दिये जाने की सूचना एस.एम.एस के माध्यम से जिला को उपलब्ध कराया जाता है। 2014-2015 एवं 2016 में विभिन्न कोटि के कुल 601 इण्टरमीडिएट प्रशिक्षित शिक्षक तथा 112  इण्टरमीडिएट प्रशिक्षित उर्दू शिक्षक की नियुक्ति की गयी। 2015-16 में स्नातक प्रशिक्षित शिक्षक की कुल 167 शिक्षकों की नियुक्ति विभिन्न कोटि में की गयी।”

उपायुक्त ने बताया कि “जिले में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत् कुल 134727 लाभूकों को मुफ्त में गैस सिलेण्डर एवं चुल्हा प्रदान किया गया। साथ ही जिले में कुल 357785 लोगों का राशन कार्ड बनाया गया है। उन्होंने बताया कि जिले में कुल 1711 जन वितरण प्रणाली की दुकानें हैं, जिसमें अक्तूबर माह 2016 से ई-पोस मशीन के माध्यम से आनलाईन खाद्यान्न का वितरण किया जा रहा है।” उन्होंने बताया कि “प्रधानमंत्री फसल बीमा  के तहत् विगत् 4 वर्षों में 138711 किसानों का बीमा कराया गया है। साथ ही 45025263 क्ंतल धान की अधिप्राप्ति विभिन्न पैक्सों में की गयी है।”
पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक कार्तिक एस ने बताया कि “जिला पुलिस विभाग की ओर महिला थाना में 24 घंटे महिलाओं की सुविधा हेतु पिंक पेट्रोल की शुरूआत की गई है। अगस्त 2017 में महिलाओं की सुरक्षा हेतु शक्ति ऐप की शुरूआत बोकारो जिला में की गई।” उन्होंने बताया कि “साईबर अपराध पर अंकुश लगाने के लिए जिले में साईबर थाना की भी शुरूआत की गई है।”   प्रेसवार्ता के दौरान उप विकास आयुक्त रवि रंजन मिश्रा, निदेशक डीआरडीए संदीप कुमार, पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय सुश्री पूनम मिंज, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी विकास कुमार हेम्ब्रम सहित जिले के सभी प्रिंट एवं इलेक्ट्रोनिक मीडिया बंधु एवं जनसंपर्क कार्यालय के सभी कर्मी उपस्थित थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *