सरगना सहित सेक्स रैकेट के सात लोग गिरफ्तार, जेल

 

रिखिया के नवाडीह में 5 सालों से चल रही जिस्म की मंडी का राजफास / कोलकाता और आसनसोल की सेक्स वर्कर बुलायी जाती थी अड्डे पर/गिरोह की मास्टर माइंड गुड़िया के घर छापेमारी में पुलिस को मिली कामयाबी/ देवघर शहर से सटा है सेक्स रैकेट का ठिकाना

देवघर/संवाददाता। देवघर शहर से सटे एक इलाके में पिछले करीब 5 सालों से सज रही रूप की मंडी का शनिवार की रात पुलिस ने राजफास कर लिया है। रिखिया थाना क्षेत्र के नवाडीह में सेक्स रैकेट की मास्टर माइंड संगीता देवी उर्फ गुड़िया के घर पर छापेमारी में पुलिस टीम को यह कामयाबी मिली है। छापेमारी के दौरान पुलिस ने संगीता देवी उर्फ गुड़िया सहित सात लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। छापामारी के दौरान पुलिस ने गुड़िया के पास से दो पिस्टल और 11 जिंदा कारतूस, डेढ़ लाख नगद, पासबुक, एटीएम आदि भी बरामद किया है। गिरफ्तार लोगों में तीन महिला सेक्स वर्कर और तीन पुरूषों को पुलिस ने आपत्तिजनक स्थिति में पाया। आपत्तिजनक हालत में गिरफ्तार पुरूषों में एक दलाल भी शामिल था। दलाल की पहचान रिखिया थाना क्षेत्र के रामपुर के प्रो कॉलोनी निवासी विजय कुमार पिता दयाशंकर मिश्र के रूप में की गयी है। बताया जाता है कि गुड़िया के ठिकाने पर आये दिन कुछ रसूखदार लोगों की गाड़ियां खड़ी देखी जाती रही है। इधर नगर थाना प्रभारी विनोद कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना पर पुलिस ने साइबर डीएसपी नेहा बाला के नेतृत्व में छापेमारी की।

तीन अलग-अलग कमरों में पुलिस ने धावा बोला

नगर थाना प्रभारी ने बताया कि छापेमारी के दौरान तीन अलग-अलग कमरों में धावा बोला गया। यहां से तीन पुरुष और तीन महिला को आपत्तिजनक हालत मंे गिरफ्तार किया गया। रामपुर प्रोफेसर कॉलोनी निवासी विजय कुमार पिता दयाशंकर मिश्र दलाल का काम करता था और उसे भी पुलिस ने आपत्तिजनक हालत में धर-दबोचा है।

सेक्स वर्करों को मिलते थे रोजाना 12 सौ रुपये

नगर थानेदार ने बताया कि गिरोह के इस ठिकाने पर कोलकाता, बारासात और आसनसोल आदि जगहों से सेक्स वर्करों को बुलाया जाता था। उन्हें एक हजार से 12 सौ रुपये प्रति रात के हिसाब से मिलता था। जबकि उन्हें सात से आठ कस्टमरों के साथ डील करना पड़ता था। वहीं गिरोह के लोग कस्टमर से प्रति व्यक्ति छह सौ रुपये वसूलते थे। सेक्स वर्कर अलग अलग जगहों से आती थीं और दो से तीन दिन रुकती थीं।

सरगना के घर से इन सामानों की हुई बरामदगी

छापेमारी के दौरान गुड़िया देवी के घर से एक गैर लाईसेंसी पिस्टल, एक देसी कट्टा, दो मैगजीन, 11 जिंदा कारतूस, एक लाख 51,418 रुपया, विभिन्न बैंकों के पासबुक, चेकबुक, चार एटीएम कार्ड, छह स्मार्टफोन और भारी मात्रा में कंडोम बरामद किया गया है। थानेदार ने बताया कि गुड़िया देवी के खिलाफ आर्म्स एक्ट और अनैतिक देह व्यापार से संबंधित धारा लगाई गई है। अन्य सदस्यों के खिलाफ अनैतिक देह व्यापार से संबंधित धारा लगाई गई है।

गिरफ्तार अरोपियों के नाम

रिखिया थाना क्षेत्र के नवाडीह से गुड़िया देवी पति गोपाल सिंह, पश्चिम बंगाल के बासघोनी से सुस्मिता घोष पति विश्वजीत घोष, बारासात थाना के मलिहापुर से फरीदा बेगम पति शेख मुजिब, आसनसोल से संध्या दास पति बापी दास, देवघर के रिखिया थाना स्थित रामपुर के प्रो. कॉलोनी से विजय कुमार पिता स्व. दयाशंकर मिश्रा, सोनारायढ़ाड़ी थाना के मकडीहा से चंद्रशेखर यादव पिता गुरुदयाल यादव और जियाउल अंसारी पिता कमरुद्दीन अंसारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *