राज्यपाल ने हंसडीहा में डेयरी इंजीनियरिंग कॉलेज का किया उद्घाटन

प्रशिक्षित युवाओं के लिए डेयरी उद्योग में भरपूर अवसर: द्रौपदी मुर्मू/कॉलेज की स्थापना से डेयरी शिक्षा, शोध एवं प्रसार को मिलेगी गति

दुमका/संवाददाता। राज्सपाल द्रौपदी मुर्मू ने सोमवार को हंसडीहा स्थित फूलो-झानो दुग्ध प्रौद्योगिकी महाविद्यालय का उदघाटन किया। उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए मौके पर राज्यपाल ने कहा कि भारत में कृषि और पशुपालन आधारित अर्थव्यवस्था का सदियों पुराना इतिहास है। आज भी ग्रामीण आबादी का एक बड़ा हिस्सा अपनी आजीविका के लिए कृषि और पशुपालन पर निर्भर है। संथाल आदिवासी बहुल इस क्षेत्र में आजीविका का मुख्य साधन कृषि है। इस क्षेत्र में उद्योग संस्थानों का आभाव है। कृषि क्षेत्र में उन्नत तकनीकों के प्रसार से ही इस इलाके के लोगों को बेहतर जीविका के साधन उपलब्ध कराये जा सकते हंै। लाभकारी कृषि में पशुपालन काफी उपयोगी उद्यम है और इस क्षेत्र की बहुसंख्यक आबादी के अतिरिक्त आय का सदियों से साधन रहा है।

डेयरी क्षेत्र में मौकों की कोई कमी नहीं

राज्यपाल द्रोपदी देवी ने कहा कि डेयरी टेक्नोलॉजी के लिए डेयरी प्लांट और डेयरी मैन्यूफेक्चरिंग उपकरण के क्षेत्र में मौकों की कोई कमी नहीं है। इंजीनियरिंग के क्षेत्र में कैरियर बनाने को इच्छुक युवाओं के लिए डेयरी टेक्नोलॉजी एक ऑफ बीट कोर्स के तौर पर आकर्षक कैरियर विकल्प के रूप में उभरा है। डेयरी उत्पाद की खपत और निर्यात में हाल के वर्षो में तेजी से बढ़ोतरी हुई है, जिससे डेयरी कारोबार एक बडे़ उद्योग के रूप में विकसित हो चुका है। यह एक विशिष्ट कार्य क्षेत्र के रूप में तब्दील हो चुका है, जहां प्रशिक्षित युवाओं के लिये भरपूर अवसर बन रहे हैं। उन्होंने आशा जतायी कि इस महाविद्यालय की स्थापना से राज्य में डेयरी शिक्षा, शोध एवं प्रसार को गति मिलेगी और बेहतर अवसरों का सृजन और मार्ग सुगम होगा, जिसका लाभ स्थानीय किसानों और युवा छात्रों को प्राप्त होगा। उन्होंने डेयरी कॉलेज के बेहतर प्रयासों और उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

इस मौके पर कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता मंत्री रंधीर कुमार सिंह, कल्याण मंत्री डॉ लुईस मरांडी, गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे, बिरसा कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ राम शंकर कुरील, सिदो-कान्हू मुर्मू विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ मनोरंजन प्रसाद सिन्हा आदि मौजूद थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *