बाइक पर सवार एक ही परिवार के चार लोगों को ट्रक ने रौंदा

गर्भवती महिला व उसकी दो बेटियों की मौत, पति घायल/बाइक चला रहे साहबराम की हालत नाजुक /मधुपुर से अपने घर जा रहा था पूरा परिवार/आक्रोशित लोगों ने मुआवजे की मांग पर किया सड़क जाम

मधुपुर/संवाददाता। मधुपुर अनुमंडल के बुढ़ई थाना अंतर्गत पत्थलजोर गांव के समीप मधुपुर- गिरिडीह मुख्य सड़क पर बेकाबू ट्रक की चपेट में आने से बाईक सवार गर्भवती महिला और उसकी दो बच्चियों की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि बाइक चला रहे महिला का पति गंभीर रूप से घायल हो गये। इस हादसे में 30 वर्षीय गर्भवती महिला चांदनी टूडू, 7 वर्षीय उसकी पुत्री शांति कुमारी और 5 वर्षीय पुत्री सीमा कुमारी की मौत हुई है। 35 वर्षीय साहेबराम हांसदा गंभीर रूप से इस हादसे में घायल हो गये हंै। घटना के बाद से आसपास के दर्जनों गांव के सैकड़ों लोग घटनास्थल पर पहुंचे। आक्रोशित ग्रामीण पीड़ित परिवार को मुआवजा और लापरवाह ट्रक ड्राइवर के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर सड़क जाम कर दिया।

घटना स्थल पर पहुंचे पूर्व मंत्री और एसडीओ

घटना की सूचना पर बुढ़ई थाना की पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। इधर पूर्व मंत्री हाजी हुसैन अंसारी, एसडीओ योगेंद्र प्रसाद, नगर परिषद उपाध्यक्ष मोहम्मद जियाउल हक टार्जन, मधुपुर अंचलाधिकारी मनीष कुमार भी स्थल पर पहुंच चुके थे। अधिकारियों ने सड़क जाम कर रहे ग्रामीणों को काफी समझाने बुझाने का प्रयास किया। लेकिन, आक्रोशित ग्रामीण किसी की बात सुनने को तैयार नहीं थे।

बेकाबू ट्रक ने पीछे से बाइक को रौंद डाला

घटना के बाबत बताया जाता है कि साहबराम हांसदा अपने परिवार के साथ मधुपुर के गढ़िया प्रखंड स्थित पुनीझरी गांव स्थित ससुराल आया था। गुरुवार को वह अपनी पत्नी और दो बेटियों के साथ बाइक पर सवार होकर पत्थलजोर के रास्ते अपने गांव श्यामपुर वापस जा रहा था। इसी दौरान पथलजोर गांव के समीप जेएच 10 डब्लू 6654 नंबर के ट्रक ने अनियंत्रित होकर पीछे से बाइक को रौंद डाला। हादसे में गर्भवती महिला और दो बच्चियों की मौत मौके पर ही हो गई। घटना के बाद ट्रक चालक वाहन छोड़ कर भाग गया।

घंटों जाम से लगी वाहनों की लंबी कतार

बताया जाता है ट्रक चावल लोड कर गिरिडीह की ओर जा रहा था। पुलिस ने ट्रक को जब्त कर थाना ले आई है। घंटों जाम के कारण सड़क की दोनों ओर सैकड़ों वाहनों की लंबी कतार लग गई है। उमस भरी गर्मी में यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। जानकारी के अनुसार वाहन मालिक की तरफ से घायल के इलाज के लिए 20 हजार और रोड निर्माण कंपनी की तरफ से 50 हजार के आर्थिक सहयोग का आश्वासन मिला है। इधर प्रशासनिक अधिकारियों ने भी सरकारी सहायता दिलाने का आश्वासन दिया है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *