कुल्हाड़ी से काट-काट कर की सास व पत्नी की हत्या

पत्नी के किसी से नाजायज संबंध की शक पर कातिल बना सनकी घर जमाई/हत्या के बाद खुद को घर में किया बंद, पुलिस ने किया गिरफ्तार/पुलिसिया पूछताछ में बहादुर रवानी ने जुर्म कबूल किया

जामताड़ा/संवाददाता। पत्नी के किसी से नाजायज संबंध की शक पर एक पति ने शुक्रवार को तड़के निर्ममता की सारी हदें पार कर दी। उसने इस बात का बतंगड़ बनाया और अपनी सास व पत्नी की कुल्हाड़ी से काट-काट कर हत्या कर दी। जब वह पत्नी की हत्या कर रहा था, तब उसका आठ साल का बेटा अपनी मां के बगल में नींद में सो रहा था। घटना से बच्चा डरा-सहमा हुआ है। घटना जामताड़ा थाना क्षेत्र के राखवन की है। आरोपी 36 वर्षीय बहादुर रवानी घर जमाई था और ससुराल में ही रहता था। उसने हत्या की इस वारदात को अहले सुबह साढ़े तीन बजे अंजाम दिया। बाद में उसने खुद को पुलिस के डार से एक कमरे में बंद कर लिया। हालांकि सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में बहादुर ने सास व पत्नी की हत्या की बात कबूल की है। उसने बताया कि किसी से नाजायज संबंध की शक पर उसने गुस्से में दोनों की हत्या की है।

सास की हत्या के बाद पत्नी को मार डाला

बहादुर रवानी ने कुल्हाड़ी से पहले अपनी सास 50 वर्षीय सरस्वती देवी की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी। बाद में कुल्हाड़ी के हमले से 32 वर्षीय पत्नी राधा देवी को भी मौत की नींद सुला दिया। बाद में उसने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया। इस बीच लोगों को घटना की खबर हो गयी। ग्रामीणों ने सुबह लगभग चार बजकर 20 मिनट पर टाउन थाना को उक्त घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंचे टाउन इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी मनोज कुमार सिंह ने आरोपी बहादुर रवानी को गिरफ्तार कर थाना लाया। पूछताछ में उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

झगड़ालू प्रवृति का रहा है बहादुर

मृतका सरस्वती देवी के पति और राधा देवी के पिता लक्खी रवानी के अलावा ग्रामीणों ने बताया कि आरोपी सनकी मिजाज का है। जब-तब किसी से भी झगड़ बैठता है। इधर पुलिस ने जामताड़ा थाना कांड संख्या 134/2019 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताते हैं कि आरोपी कुछ सालों से घर जमाई के तौर पर ससुराल में रहता था। घटना के बाद जब पुलिस आरोपी युवक को साथ लेकर थाना आ रही थी तो ग्रामीण काफी आक्रोशित थे और युवक पर पत्थर और लाठी डंडे से वार कर रहे थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *