आदिवासी पीड़िता ने की डीएसपी के विरुद्ध यौन शोषण की शिकायत

नाबालिग लड़की का आवेदन थाने में हुआ अस्वीकार/रांची में पदस्थापित हैं एसीबी डीएसपी मोजीबुर रहमान

साहिबगंज/उधवा/संवाददाता। राधानगर थाना क्षेत्र के कुसमा गांव की एक नाबालिग लड़की ने रांची में पदस्थापित एसीबी डीएसपी मोजीबुर रहमान के विरूद्ध यौन शोषण का आरोप लगाते हुए राधानगर थाने में लिखित शिकायत दी है। हालांकि राधानगर थाना प्रभारी ऋषिकेश कुमार राय ने आवेदन को यह कहते हुए अस्वीकार कर दिया है कि मामला रांची का है और प्राथमिकी रांची में ही करानी चाहिए। पीड़ित लड़की का आरोप है कि मोजीबुर रहमान ने अपने आदमी के जरिये प्रलोभन देते हुए रांची में उच्च शिक्षा दिलाने की बात कही थी।

पीड़िता ने क्या लगाये हैं आरोप

लड़की कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय उधवा में नौवीं कक्षा की छात्रा है। उसे कहा गया था कि रांची में अच्छी शिक्षा दी जाएगी। लेकिन डीएसपी ने उसके साथ कथित तौर पर यौन दुराचार किया है और मामला दबाने के लिए उसके साथ मारपीट की। आरोप ये भी है कि डराने के लिए बल प्रयोग किया गया। लेकिन, लड़की ने आपबीती की सूचना डीएसपी की मम्मी के मोबाइल से अपने परिजनों को दे दी थी। जिसकी भनक लगते ही डीएसपी मोजीबुर रहमान ने उसे अपने बाथरूम में बंद कर मारपीट की और सुनसान जगह में अपने बॉडीगार्ड के साथ लड़की की कनपटी पर रिवॉल्वर सटा कर चुपचाप रहने को कहा।

चोरी के आरोप में गिरफ्तार किये गये लड़की के बहनोई

पीड़िता का आरोप है कि मामले के खुलासे के डर से डीएसपी ने लड़की के बहनोई बाबू धन मुर्मू पर चोरी का आरोप लगाते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया। उसके विरुद्ध रांची कुनदाक थाना में चोरी का मामला दर्ज कर बाबूधन मुर्मू को जेल भेज दिया गया। लड़की के परिजन जब उसे रांची से लाने गये तो उसे रोका गया और उसके परिवार की इच्छा के विरुद्ध सीडब्ल्यूसी के कुछ महिलाओं के जिम्मे लगा दिया गया। बाद में सीडब्ल्यूसी ने उसे पूछताछ कर परिजनों के हवाले कर दिया। इधर लड़की के घर पहुंचने पर रविवार को राधानगर थाना में उसने अपने साथ हुई घटना के बारे में राधानगर थाना प्रभारी को लिखित शिकायत दी। लेकिन, आवेदन को अस्वीकार कर दिया गया।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *