विधानसभा चुनाव का बिगुल बजते ही झरिया में घमाशान शुरू, सिंह मेंसन को झटका, चुनाव से पहले जनता मजदूर संघ कुंती गुट छोड़ बच्चा सिंह गुट में संयुक्त महामंत्री केडी पांडेय अपने दर्ज़न भर साथियों के साथ रघुकुल में शामिल हुए

धनबाद । विधानसभा चुनाव का बिगुल बजते ही चारों ओर दल बदल नेताओ को होने लगा इससे अछूता झरिया विधानसभा भी नहीं रहा काले हीरे की नगरी झरिया में हमेशा मजदूर पर राजनीति होती रही है और अब मजदूरों का संघ जनता मजदूर संघ कुंती गुट छोड़ बच्चा सिंह गुट में संयुक्त महामंत्री केडी पांडेय अपने दर्ज़न भर साथियों के साथ रघुकुल में शामिल हुए,
उन्होंने कहा की
नीरज सिंह की हत्या के समय अपनी पत्नी समेत पूरे परिवार के साथ मुंबई में था। हत्या की खबर पाकर पूरा परिवार दुखी हुआ था। उस वक्त पत्नी ने वचन लिया था कि नीरज की पत्नी जब कभी राजनीति में कदम रखे उन्हें पूर्ण रूप से सहयोग करना है। आज जब चुनाव की घड़ी आन पड़ी है तो उस वचन को निभाने आ पहुँचे है। उक्त बांते जनता मजदूर संघ (कुंती गुट) के संयुक्त महामंत्री केडी पांडेय ने गुरुवार को रघुकुल में प्रेस को संबोधित कर कही।

प्रेस वार्ता में मौजूद स्व0 नीरज सिंह की धर्मपत्नी पूर्णिमा सिंह ने कहा कि अपने पति के नाम को आगे लेकर जाना और निःस्वार्थ भाव के साथ जनता की सेवा करना ही राजनीति में आने का एकमात्र लक्ष्य है। झरिया सीट से कांग्रेस पार्टी से चुनाव लड़ने का दावा ठोक चुकी पूर्णिमा सिंह ने एक सवाल के जवाब में कहा कि लड़ने आई हूं हर हाल में लड़ूंगी। लड़ाई राजनीतिक मंच से होगी।

केडी पांडेय समेत छह पदाधिकारी केएन सिंह उपध्यक्ष,अब्दुल करीम अंसारी केंद्रीय सचिव , मनोज सिंह,अनिल प्रसाद,पिंटू दत्ता जनता मजदूर संघ (बच्चा गुट) में शामिल हुए है। बच्चा सिंह ने सभी का अभिनंदन किया। केडी पांडेय ने कहा कि कुंती गुट छोड़ने का सिलसिला अब चल पड़ा है। जल्द ही हजारों लोग कुंती गुट छोड़कर बच्चा गुट का दामन थामेंगे। जनता मजदूर संघ (कुंती गुट) में शामिल 75 प्रतिशत लोग बच्चा गुट में आएंगे। उन्होंने बताया सत्य का साथ देने आया हूं। यह समर्थन केवल चुनाव तक ही नही बल्कि आजीवन बच्चा गुट में शामिल रहकर संगठन के लिए कार्य करेंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *