राज्यपाल द्रोपदी मुर्मू सिंफर के दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन को करेगी उद्घाटन

धनबाद. केंद्रीय खनन एवं ईंधन अनुसंधान संस्थान (सिंफर) में खनन क्षेत्र में प्रगतियॉ (एआईएम-2020) विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन 14 फरवरी से होने जा रहा है. सम्मेलन का उद्घाटन झारखण्ड की राज्यपाल के हाथों किया जाएगा. उद्घाटन समारोह दस बजे से शुरू होगा. राज्यपाल द्रोपदी मुर्मू यहाँ एडवांस रॉक मशीन लेबोरेटरी का उद्घाटन भी करेंगी.

यह जानकारी सिंफर निदेशक डॉ प्रदीप कुमार सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस में दी. उन्होंने बताया उद्घाटन समारोह में एलएस शेखावत निदेशक (ऑपरेशन) हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड विशिष्ट अतिथि के तौर पर उपस्थित होंगे.

40 संस्थाएं भाग लेंगी :

इसमे सीआईएल एवं उसकी अनुषंगी कम्पनियां आईआईटी आइएसएम, आईआईटी खड़गपूर, आईआईटी बीएचयू, एनआईटी सूरतकल, जेएमस, रिलाइंस पावर प्रोजेक्ट, एल एंड टी कंस्ट्रक्शन, जेमको, मेकॉन, सेल, उड़ीसा माइनिंग कारपोरेशन, नाल्को वॉटर्स,, गेन्वेल आदि 40 कॉम्पनिया भाग ले रही है.

राष्ट्रीय सम्मेलन का उद्देश्य :

उन्होंने बताया इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स धनबाद चैप्टर के सहयोग से सिंफर यह सम्मेलन करने जा रही है. खनन के क्षेत्र में हुई नवीनतम प्रगतियों के बारे में जानने विचारों का विनिमय करने और खनन के मुख्य मुद्दों को सम्बोधित करने के लिए सभी हितकारकों को आपस मे बातचीत और विचार विमर्श करने हेतु एक प्रभावी मंच प्रदान करना कार्यक्रम का उद्देश्य है.

21 मुख्य बिंदुओं पर होगी चर्चा :

सम्मेलन में 21 प्रमुख विषयो को रखा जाएगा. जिसमे खान योजना डिजाइन और क्लोजर, उभरती खनन पद्धतियां, संख्यात्मक मॉडलिंग, का अनुप्रयोग, खनन उपकरण और खान यंत्रीकरण, अधिक गहराई में निक्षेपों का निष्कर्षण, शेल यांत्रिकी केविंग क्रियाविधि और भूधसान अधियांत्रिकी आदि शामिल है.

समापन समारोह में ये होंगे मुख्य अतिथि :

उन्होंने बताया राष्ट्रीय सम्मेलन का समपन समरोह 15 फरवरी की शाम 4 बजे होगी. खान एवं भूविज्ञान विभाग, झारखण्ड सरकार के सचिव सह आयुक्त अबू बकर सिद्दिकी मुख्य अतिथि होंगे. उनके अलावे ईसीएल के सीएमडी प्रेम सागर मिश्रा भी रहेंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *