डीएसओ ने की गिरिडीह जिले के जन वितरण प्रणाली की जांच

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए 21 दिनों का देशव्यापी लॉक डाउन किया गया है। तथा जिले में धारा 144 भी लागू किया गया है। लॉकडाउन की अवधि में राशन की मांग बढ़ जाने से कालाबाजारी और निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य पर सामान की बिक्री की शिकायते आ रही है। जिला आपूर्ति पदाधिकारी ने कालाबाजारी तथा निर्धारित दर से ज्यादा कीमत ग्राहकों से वसूलने की शिकायत को गंभीरता से संज्ञान में लेते हुए आज जिले के विभिन्न राशन दुकानों एवं अन्य गोदामों/व्यवसायिक प्रतिष्ठानों का औचक निरीक्षण कर वस्तु स्थिति का जायजा लिया गया।
जिला आपूर्ति पदाधिकारी ने कालाबाजारी तथा निर्धारित मात्रा से कम मात्रा में ग्राहकों को चावल वितरण करने से शिकायत को गंभीरता से संज्ञान में लेते हुए आज जिले के विभिन्न जन वितरण प्रणाली की दुकानों का औचक निरीक्षण कर वस्तु स्थिति का जायजा लिया गया। निरीक्षण के क्रम में जिला आपूर्ति पदाधिकारी के द्वारा परातडीह के जन वितरण प्रणाली के दुकानदार को अनियमितता एवं जांच के आरोप में त्वरित कार्रवाई करते हुए सस्पेंड किया गया। तथा दुकान को सील कर दिया गया। तथा बगल वाले डीलर मो० फारूक को प्रभार दिया गया। इसके अलावा उन्होंने डांडीडीह के राशन दुकान की जांच की। डीलर संतोष कुमार गुप्ता के खिलाफ आरोप है कि वे ग्राहकों को अप्रैल माह तक का राशन उनके खाता में चढ़ा दिए हैं जबकि ग्राहकों का शिकायत है कि फरवरी-मार्च तक का ही राशन उपलब्ध कराया गया है। एवं राशन की मात्रा भी कम दी जाती है। जिला आपूर्ति पदाधिकारी के द्वारा कड़ी चेतावनी देते हुए कहा गया कि इस तरह की शिकायत दोबारा मेरे पास किसी भी ग्राहक का नही आना चाहिए। तत्पश्चात जिला आपूर्ति पदाधिकारी ने उदनाबाद में जागृति महिला मंच जन वितरण प्रणाली की दुकान की जाँच की। जाँच के क्रम में सब सही पाया गया। दुकान में राशन मात्रा तालिका के साथ रजिस्टर मेनटेन तथा सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन किया जा रहा है। जिला आपूर्ति पदाधिकारी के द्वारा जागृति महिला मंच की सराहना की गई। तथा जिला आपूर्ति पदाधिकारी एवं मुखिया, उदनाबाद के द्वारा आमजनों के बीच मास्क एवं सैनिटाइजर का वितरण किया गया।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *