IIT(ISM) धनबाद ने बनाया अनूठा वेंटिलेटर

2006 अमेरिका में पहली बार एक से अधिक लोगों के लिए वेंटिलेटर बनाने का विचार वैज्ञानिकों के दिमाग में आया। तब डॉ. मेनिस के मार्गदर्शन में एक वेंटिलेटर से दो को ऑक्सीजन दिया गया। …

IIT(ISM) (इंडियन स्कूल ऑफ माइन्स-धनबाद) के वैज्ञानिकों ने एक ऐसा वेंटिलेटर तैयार किया है जो एक साथ चार इंसानों की जिंदगी बचाएगा। देश में कोरोना के मरीज की संख्या लगातार बढ़ रही है। उनके इलाज में वेंटिलेटर की आवश्यकता होती है। ऐसे में गहन शोध के बाद आइएसएम के वैज्ञानिकों द्वारा चार लोगों की चिकित्सा में सहायक यह वेंटिलेटर वरदान से कम नहीं है। इस वेंटिलेटर की खासियत यह है कि इसके माध्यम से अलग-अलग मरीजों को उनकी जरूरत के मुताबिक ऑक्सीजन मिलेगा। आइएसएम के वैज्ञानिक एक-दो दिनों के अंदर इसे धनबाद स्थित पीएमसीएच (पाटलीपुत्र मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल) को सौंप देंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *