हामिद की जगह खुद को कैसे बनवाया राष्ट्रपति?

प्रणव दा की पुस्तक में कई और खुलासे रह गये बाकी पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की पुस्तक ‘द कोअलिशन इयर्स’ एक राजनीतिक दस्तावेज बन

Read more

24 साल तक के युवा वोट देते हैं, ले क्यों नहीं सकते?

वोटिंग का अधिकार 18 साल से मगर चुनाव लड़ने का हक 25 साल होने पर उठे सवाल राजेश कुमार पाठक राजनीति में युवाओं के

Read more

बसती-लुटती जिंदगी और तुम जैसा ही तुुम्हारा शहर

‘उड़ने की सरहदें न बांटो, परिंदों के लिए भी कुछ जमीं रहने दो’ संजय करूणेश तुम्हारा शहर बिल्कुल तुम जैसा ही रहा……., बसती- लुटती

Read more

तीन तलाकः वेश्या जैसी गुजरी मीना कुमारी की रातें

भारतीय सिनेमा जगत में ट्रेजडी क्वीन नाम से मशहूर अदाकारा मीना कुमारी जीवित नहीं हैं, मगर उनके रूह को तीन तलाक पर आये सुप्रीम

Read more

निकाह तोड़ने का फंडा ‘तीन तलाक‘ अब ठंडा

अस्सी के दशक में ही मौलवियों को दिखायी गयी थी फिल्म निकाह  एक के बाद दूसरी और दूसरी के बाद तीसरी-चैथी शादी करने का

Read more

पुरस्कार पर शोर-शराबा फूहड़ता की हद

उमा पुरस्कार पर नाराजगी है तो निर्णय पर अपनी नाराजगी नेताओं की तरह नहीं व्यक्त करें। पिछले दिनों भारत भूषण अग्रवाल पुरस्कार को लेकर

Read more

‘अमर‘वादी दौर में लालू-नीतीश पर बकथोथरी

तुलसी दास अमरवादी दौर भारतीय राजनीतिक इतिहास की सबसे आदर्श अवस्था है। जहां तमाम राजनीतक विचारधाराएं कुर्सी वंदना में पानी भरने जाती हैं, वहीं

Read more