IAS अफसर के बाद उनके ओएसडी ने भी की खुदकुशी

लगातार दूसरे हाई प्रोफाइल सुसाइड केस ने छोड़े कई सवाल

रंजन ठाकुर

बक्सर। आइएएस मुकेश पांडेय की खुुदकुशी का राजफास हुआ भी नहीं था कि उनके ओएसडी रहे तौकीर अकरम ने भी फांसी के फंदे पर झूल कर आत्महत्या कर ली। तौकीर अकरम ने पंखे से लटककर अपने घर में खुदकुशी की। घटना की जानकारी रविवार की सुबह परिवार वालों को तब मिली जब उन्हें जगाने के लिए वे उनके कमरे में पहुंचे। काफी आवाज लगाने के बाद जब दरवाजा नहीं खुुला तो अनहोनी की आशंका पर आसपास के लोगों ने दरवाजा खोला। तौकीर अकरम की लाश पंखे से लटकती देख परिवार वालों के पैरों तले जमीन खिसक गई। मामले की जानकारी पुलिस को दे दी गई है।

मौके पर पहुंची पुलिस ने लाश को अपने कब्जे में ले लिया है। साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। घटनास्थल से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें लिखा है कि मेरी मौत का जिम्मेदार कोई नहीं, मैंने अपनी मर्जी से खुदकुशी की है। घटना को लेकर बताया जा रहा है कि तौकीर अकरम एक आॅफिशियल मीटिंग से शनिवार की देर रात बक्सर अपने घर लौटे थे। घर पर खाना खाने के बाद वे अपने कमरे में सोने चले गये। माना जा रहा है कि देर रात ही पंखे से लटककर उन्होंने खुदकुशी कर ली।

इधर घटना के बारे में उनके परिवार वाले कुछ भी नहीं बता पा रहे हैं। मालूम हो कि सुसाइड करने वाले तौकीर अहमद जिला भू-अर्जन पदाधिकारी भी थे। वे बक्सर स्थित अपने आवास पर परिवार के साथ रहते थे। बक्सर में पिछले ढाई साल से रहने के दौरान उन्हें कई विभागीय जिम्मेदारियां मिली थी। तौकीर अकरम बक्सर के ही आईएएस डीएम मुकेश पांडेय, जिन्होंने कुछ महीने पहले खुदकुशी की थी, के ओएसडी रह चुके हैं। मौजूदा डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने बताया कि तौकीर का व्यक्तित्व हंसमुख था। उम्मीद नहीं थी कि वे ऐसा करेंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *